आशा घर के कामकाज निपटा कर आराम करने के लिए बैडरूम की ओर जा रही थी, तभी उस के सेलफोन की घंटी बज उठी. उस ने काल रिसीव कर जैसे ही ‘हैलो’ कहा, दूसरी ओर से कहा गया, ‘‘मुबारक हो जी, आप बनी हैं सर्वश्रेष्ठ विजेता.’’

यह सुन कर आशा ने हैरानी से पूछा, ‘‘सर्वश्रेष्ठ विजेता, किस चीज की?’’

जवाब में दूसरी ओर से कहा गया, ‘‘मैडम, पिछले दिनों हमारी कंपनी की ओर से कुछ सवाल पूछे गए थे. आप ने उन सभी सवालों के जवाब एकदम सही दिए थे, इसलिए आप विजेता बनी हैं.’’

फिर तो आशा खुश हो कर बोली, ‘‘थैंक्यू सर, थैंक्यू वेरी मच.’’

आशा कुछ और कहती, दूसरी ओर से कहा गया, ‘‘मैडम, आप को हमारी कंपनी की ओर से एक शानदार गिफ्ट दिया जाएगा. वह भी कोई ऐसावैसा नहीं, बल्कि बहुत ज्यादा कीमती. आप जानना चाहेंगी उस गिफ्ट की कीमत?’’

आशा ही क्या, कोई भी होता, वह हां कह देता. आशा ने भी तुरंत हां कर दिया. इस के बाद फोन करने वाले ने बताया कि उसे दिए जाने वाले गिफ्ट की कीमत करोड़ों में है. गिफ्ट की कीमत सुनते ही आशा के मुंह से ‘अरे वाह, करोड़ों का गिफ्ट’ निकल गया.

करोड़ों की कीमत के गिफ्ट की बात सुन कर आशा कुछ सोच ही रही थी कि फोन करने वाले ने उस का ध्यान अपनी ओर खींचते हुए कहा, ‘‘मैडम, आप जानती ही होंगी कि विदेश से आए गिफ्ट को पाने के लिए कस्टम और इनकम टैक्स विभाग को टैक्स देना होता है. करोड़ों की कीमत वाले इस गिफ्ट को पाने के लिए भी आप को भी कस्टम ड्यूटी आदि जमा करानी होगी. यह सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही आप को गिफ्ट भेजा जाएगा.’’

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...